" अग्ने नय सुपथा राये " ईशावास्योप्िनषद् (18) यजुर्वेद का चालीसवां अध्याय है। इस मंत्र में ऋषि ने बड़े ही प्रतीकात्मक शब्दों में अग्नि से प्रार्थना की है की - हे अग्निदेव! मुझे " राये " अर्थात भौतिक वैभव , ऐश्वर्य-सम्पदा के लिए सुन्दर शुभ पथ से ले चलो। धन जीवन के लिए आवश्यक भी है किन्तु धन सभी बुराइयों का जड़ भी है। धनोपार्जन यदि सच्चाई , ईमानदारी और संतोषवृत्ति के सुमार्ग पर चलकर किया जाये तो मन में शांति का बिरवा फलता है आत्मशक्ति बढ़ती है इसलिए भी यह प्रार्थना सार्थक है की ऋषि ने अग्निदेव से सीधा धन नहीं माँगा , धन तो पुरुषार्थ से ही कमाया जाता है, केवल शुभ मार्ग से भटकने से अपने बचाव के लिए ऋषि ने अग्नि से मार्गदर्शन माँगा है। सुमार्ग पर चलते रहने के लिए सहयोग का वरदान माँगा है।

Event Detail


Half Day Seminar on ICDS & Tax Audit


Dear Esteemed Members,
It is our pleasure to inform you all that "Income Tax Bar Association,Raipur jointly with Raipur Branch of ICAI" is organizing a "Half Day Seminar on ICDS & Tax Audit

The details of the program are as under:
🗓 Date & Day - 👉 21st September, 2019 Saturday
⏰ Timing : 9.30AM to 02:00 pm
💥 Venue : Royal Ambience, Near Fafadih Chowk, Station Road Raipur (C.G.)

*Registration & Breakfast 9.30 am to 10 am
Seminar
💥 Topic-1 From 10AM to 2.00 PM
💰 Issues and Challenges in ICDS under Income Tax Act.💰
🎙 Speaker:- CA Manish Dafria, Indore

💥 Topic-2
💰 Critical Issues in Tax Audit Under Income Tax Act. 💰
🎙 Speaker:- CA Prafull Pendse, Raipur

💥 Topic-3
💰 Discussion on disclosure requirements in New ITR-6 AY 2019-20 regarding share holdings for non listed companies
🎙 Speaker:- CA Abhishek Jain (Maloo)

🍽 Program shall be followed by Lunch 🍽

Regards,
Adv. Praveen Sharma
Secretary
ITBA, Raipur.